वीरांगना रानी दुर्गावती शासकीय कन्या महाविद्यालय, बिलासपुर छत्तीसगढ़, भारत, एक प्रमुख शिक्षा संस्थान है जो कि बच्चियों को उच्च शिक्षा के क्षेत्र में निरंतर विकासित करने का समर्थन करता है। इसका नाम वीरांगना रानी दुर्गावती के समर्पित है, जो कि छत्तीसगढ़ की एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक व्यक्तित्व थीं।

संस्थान की स्थापना १९५५ में हुई थी और उस समय से यहां उच्च शैक्षणिक मानकों को बनाए रखने का प्रयास किया जा रहा है। संस्थान द्वारा प्रदान किए जाने वाले विभिन्न पाठ्यक्रमों के माध्यम से, विद्यार्थियों को निर्माणशील, समर्थ और सामाजिक दायरे में अधिक करने का प्रयास किया जाता है।

संस्थान में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्टता को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक कार्यक्रम और कोर्सेज आयोजित किए जाते हैं। यहां के छात्रों को न केवल शैक्षिक विकास के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, बल्कि उन्हें व्यक्तित्व विकास और करियर के लिए भी तैयार किया जाता है।

संस्थान में शिक्षकों की अच्छी संख्या होती है, जो कि छात्रों को निरंतर मार्गदर्शन और सहायता प्रदान करते हैं। यहां के छात्रों को विभिन्न क्षेत्रों में अपने अभिरुचियों के अनुसार विकसित करने का अवसर मिलता है, जो उन्हें अपने करियर के लिए बेहतर तैयार करता है।

अत्यधिक शैक्षणिक स्तर के साथ-साथ, संस्थान छात्रों के व्यक्तित्व और सामाजिक उत्थान को भी महत्वपूर्ण मानता है। इसके लिए, विभिन्न सांस्कृतिक और सामाजिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जो छात्रों को समाज में अधिक समाजशील बनाने में मदद करते हैं।

वीरांगना रानी दुर्गावती शासकीय कन्या महाविद्यालय का उद्देश्य है छात्रों को अच्छे नागरिक और उत्तम व्यक्तित्व के रूप में समर्पित नागरिकों के रूप में प्रशिक्षित करना। यहां का संगठन और शैक्षणिक प्रक्रिया छात्रों के समृद्ध भविष्य की सटीक निर्माण में मदद करता है।